ShayariInfinity

gulzar-shayari-on love

Gulzar Shayari On Love

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares

Table of Contents

Gulzar Shayari On Love

कितनी लम्बी ख़ामोशी से गुज़रा हूँ
उन से कितना कुछ कहने की कोशिश की

Kitani Lambi Khaamoshi Se Guzara Hoon
Un Se Kitana Kuchh Kehne Ki Koshish Ki


वो मोहब्बत भी तुम्हारी थी
नफरत भी तुम्हारी थी,
हम अपनी वफ़ा का इंसाफ किससे माँगते..
वो शहर भी तुम्हारा था
वो अदालत भी तुम्हारी थी.

Vo Mohabbat Bhi Tumhari Thi
Nafrat Bhi Tumhari Thi
Hum Apni Wafa Ka Insaaf Kisse Mangte
Vo Shehar Bhi Tumhara Tha
Vo Addalat Bhi Tumhari Thi


महफ़िल में गले मिलकर वह धीरे से कह गए,
यह दुनिया की रस्म है, इसे मुहोब्बत मत समझ लेना!!

Mehfil Mein Gale Milkar Vah Dheere Se Keh Gaye,
Ye Duniya Ki Rasm Hai, Ise Mohobbat Mat Samajh Lena!!


बेशूमार मोहब्बत होगी उस बारिश  की बूँद को इस ज़मीन से,
यूँ ही नहीं कोई मोहब्बत मे इतना गिर जाता है!

Beshumaar Mohabbat Hogi Us Barish Ki Bund Ko Is Zameer Se,
Yuun Hi Nahi Koi Mohabbat Main Itna Gir Jata Hai

Gulzar Shayari In Hindi


आदतन तुमने कर दीए वादे,
आदतन हमने एतबार किया…
तेरी राहों में बारहाँ रुक कर,
हमने अपना ही इंतज़ार किया…
अब ना मांगेंगे ज़िन्दगी या रब,
यह गुनाह हमने जो एक बार किया…!!

Aadatan Tumne Kar Diye Vaade,
Aadatan Humne Aitbar Kiya…
Teri Raahon Mein Baarhan Ruk Kar,
Humne Apna Hi Intezaar Kiya…
Ab Naa Mangenge Zindagi Yaa Rab,
Yeh Gunaah Humne Jo Ek Baar Kiya…!!


तुमको ग़म के ज़ज़्बातों से उभरेगा कौन,  
ग़र हम भी मुक़र गए तो तुम्हें संभालेगा कौन!

Tumko Gam Ke Jazzbaton Se Ubhrega Kon
Gar Hum Bhi Mukr Gaye To Tumhe Sambhalega Kon

Read More: Love Shayari


तुम्हे जो याद करता हुँ, मै दुनिया भूल जाता हूँ ।
तेरी चाहत में अक्सर, सभँलना भूल जाता हूँ ।

Tumhe Jo Yaad Karta Hoon,Main Duniya Bhul Jata Hoon
Teri Chahat Main Aksar.Sambhalna Bhul Jata Hoon.

Gulzar Ki Shayari


बहुत मुश्किल से करता हूँ तेरी यादों का कारोबार,
मुनाफा कम है लेकिन गुज़ारा हो ही जाता है!

Bahut Mushkil Se Karta Hoon Teri Yaadon Ka Kaarobaar,
Munaafa Kam Hai Lekin Guzaara Ho Hi Jaata Hai!


आज मैंने खुद से एक वादा किया है,
माफ़ी मांगूंगा तुझसे तुझे रुसवा किया है,
हर मोड़ पर रहूँगा मैं तेरे साथ साथ,
अनजाने में मैंने तुझको बहुत दर्द दिया है।

Aaj Maine Khud Se Ek Vaada Kiya Hai,
Maafi Mangunga Tujhse Tujhe Rusva Kiya Hai,
Har Mod Par Rahunga Tere Sath Sath,
Anjaane Main Maine Tujhko Bahut Dard Diya Hai.


तुम्हारी ख़ुश्क सी आँखें भली नहीं लगतीं
वो सारी चीज़ें जो तुम को रुलाएँ, भेजी हैं

Tumhaaree Khushk See Aankhen Bhalee Nahin Lagteen
Vo Saaree Cheezen Jo Tum Ko Rulaen, Bhejee Hain..!!


वो चीज जिसे दिल कहते हैं,
हम भूल गए हैं रख कर कहीं!!

Wo Cheej Jise Dil Kehate Hain,
Hum Bhool Gaye Hain Rakh Kar Kahin!!


तेरी यादों के जो आखिरी थे निशान,
दिल तड़पता रहा, हम मिटाते रहे…
ख़त लिखे थे जो तुमने कभी प्यार में,
उसको पढते रहे और जलाते रहे

Teri Yadoon Ke Jo Aakhiri The Nishan,
Dill Tadapta Rha, Hum Mitate Rahe…
Khat Likhe The Jo Tumne Kabhi Pyaar Main,
Usko Padte Rahe Aur Jalate Rahe


हमने अक्सर तुम्हारी राहों में रुक कर,
अपना ही इंतज़ार किया!!

Humne Aksar Tumhaari Raahon Mein Ruk Kar,
Apna Hi Intezaar Kiya!!


हाथ छूटें भी तो रिश्ते नहीं छोड़ा करते
वक़्त की शाख़ से लम्हे नहीं तोड़ा करते

Haath Chhooten Bhee To Rishte Nahin Chhoda Karate
Waqt Kee Shaakh Se Lamhe Nahin Toda Karate..!!


यूँ तो रौनकें गुलज़ार थी महफ़िल, उस रोज़ हसीं चहरों से…
जाने कैसे उस पर्दानशी की मासूमियत पर हमारी धड़कने आ गई!!

Yun To Raunakein Gulzaar Thi Mehfil, Us Roz Haseen Cheharon Se…
Jaane Kaise Us Pardanashin Ki Maasoomiyat Par Hamaari Dhadakane Aa Gayi!!


नज़र झुका के उठाई थी जैसे पहली बार,
फिर एक बार तो देखो मुझे उसी नज़र से!

Nazar Jhuka Ke Uthai Thi Jaise Pehali Baar,
Phir Ek Baar To Dekho Mujhe Usi Nazar Se!


तेरे जाने से तो कुछ बदला नहीं,
रात भी आयी और चाँद भी था, मगर नींद नहीं

Tere Jaane Se To Kuch Badla Nahi,
Raat Bhi Aayi Aur Chand Bhi Tha,Magar Neend Nahi

Gulzar shayari on love

Gulzar Quotes On Love


कोई पूछ रहा है मुझसे अब मेरी ज़िन्दगी की कीमत,
मुझे याद आ रहा है हल्का सा मुस्कुराना तुम्हारा!

Koi Pooch Raha Hai Mujhse Ab Meri Zindagi Ki Keemat,
Mujhe Yaad Aa Raha Hai Halka Sa Muskurana Tumhara!


मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को खुद से पहले सुला देता हूँ,
मगर रोज़ सुबह ये मुझसे पहले जाग जाती है।

Main Har Raat Sari Khwahishon Ko Khud Se Pehle Sula Deta Hoon,
Magar Har Roz Subh Ye Mujhse Pehle Jaag Jati Hai


मंजर भी बेनूर था और
फिजायें भी बेरंग थीं
बस फिर तुम याद आये
और मौसम सुहाना हो गया!

Manzar Bhi Benoor Tha Aur
Fizayen Bhi Berang Thi
Bas Fir Tum Yaad Aaye
Aur Mausam Suhana Ho Gya.


तुम्हारी खुशियों के ठिकाने बहुत होंगे,
मगर हमारी बेचेनियों की वजह बस तुम हो!

Tumhaari khushiyon ke thikaane bahut honge,
Magar hamaari bechainiyon ki wajah bas tum ho!


कैसे करें हम ख़ुद को
तेरे प्यार के काबिल,
जब हम बदलते हैं,
तो तुम शर्ते बदल देते हो

Kaise Karen Hum Khud Ko
Tere Pyaar Ke Kaabil
Jab Hum Badalte Hai,
To Tum Shart Badal Dete Ho

-Gulzar shayari on love


मोहब्बत ज़िन्दगी बदल देती है,
मिल जाए तब भी और ना मिले तब भी…!!!

Mohabbat Zindagi Badal Deti Hai,
Mil Jaaye Tab Bhi Aur Naa Mile Tab Bhi…!!!


काँच के पीछे चाँद भी था और काँच के ऊपर काई भी
तीनों थे हम वो भी थे और मैं भी था तन्हाई भी

Kaanch Ke Peechhe Chaand Bhee Tha Aur Kaanch Ke Oopar Kaee Bhee
Teenon The Ham Vo Bhee The Aur Main Bhee Tha Tanhaee Bhee..!!

-Gulzar shayari on love


किसी पर मर जाने से होती हैं मोहब्बत,
इश्क जिंदा लोगों के बस का नहीं

gulzar shayari on love

Kisi Ke Mar Jaane Se Hoti Hai Mohabbat,
Ishq Jinda Logon Ke Bas Ka Nahi


सुनो…ज़रा रास्ता तो बताना…
मोहब्बत के सफ़र से वापसी है मेरी…

Suno…Zara Rasta To Batana…
Mohabbat Ke Safar Se Wapasi Hai Meri…


शाम से आँख में नमी सी है
आज फिर आप की कमी सी है

Shaam Se Aankh Mein Namee See Hai
Aaj Phir Aap Kee Kamee See Hai..!!

-Gulzar shayari on love


समेट लो इन नाजुक पलो को
ना जाने ये लम्हे हो ना हो
हो भी ये लम्हे क्या मालूम शामिल
उन पलो में हम हो ना हो

Samet Lo In Nazuk Palon Ko
Na Jaae Ye Lamhe Ho Na Ho
Ho Bhi Ye Lamhe Kya Malum Shamil
Un Palon Main Hum Ho Na Ho


ये इश्क़ मोहब्बत की रिवायत भी अजीब है
पाया नहीं है जिसको उसे खोना भी नहीं चाहते

Ye Ishq Mohabbat Ki Riwayat Bhi Ajeeb Hai
Paya Nahin Hai Jisko Use Khona Bhi Nahin Chahte


जागना भी काबुल है तेरी यादों में रातभर,
तेरे अहसासों में जो सुकून है वो नींद में कहाँ!

Jaagana Bhee Kaabul Hai Teree Yaadon Mein Raatabhar,
Tere Ahasaason Mein Jo Sukoon Hai Vo Neend Mein Kahaan..!!

-Gulzar shayari on love


आदतन तुम ने कर दिए वादे
आदतन हम ने ऐतबार किया
तेरी राहो में बारहा रुक कर
हम ने अपना ही इंतज़ार किया
अब ना मांगेंगे जिंदगी या रब
ये गुनाह हम ने एक बार किया

Aadatan Tumne Kar Diye Vaade
Aadatan Humne Aitbaar Kiya
Teri Raahon Main Barhan Ruk Kar
Humne Apna Hi Intezaar Kiya
Ab Na Mangenge Zindagi Ya Rab
Ye Gunaah Humne Ek Baar Kiya


मोहब्बत दो लोगो की
बात सौ लोगो की

Mohabbat Do Logo Ki
Baat Sau Logo Ki


कहू क्या वो बड़ी मासूमियत से पूछ बैठे है ,
क्या सचमुच दिल के मारों को बड़ी तकलीफ़ होती है
तुम्हारा क्या तुम्हें तो राहे दे देते हैं काँटे भी ,
मगर हम खांकसारों को बड़ी तकलीफ़ होती है

Kahun Kya Vo Badi Masumiyaat Se Puch Baithe Hai,
Kya Sachmuch Dill Ke Marron Ko Badi Taklif Hoti Hai
Tumhara Kya Tumhe To Raah De Dete Hai Kaanten Bhi,
Magar Hum Khaaksaron Ko Badi Takleef Hoti Hai

-Gulzar shayari on love


मैंने दबी आवाज़ में पूछा – “मुहब्बत करने लगी हो?”
नज़रें झुका कर वो बोली – “बहुत

Maine Dabi Aavaz Main Pucha- “Mohabbar Karne Lagi Ho?”
Nazren Jhuka Kar Vo Boli- “Bahut


मेरे दिल में एक धड़कन तेरी है
उस धड़कन की कसम तू ज़िन्दगी मेरी है
मेरी तो हर सांस में एक सांस तेरी है
जो कभी सांस रुक जाये तो मौत मेरी है

Mere Dil Mein Ek Dhadkan Teri Hai
Us Dhadkan Ki Kasam Tu Zindagi Meri Hai
Meri To Har Saans Mein Ek Saans Teri Hai
Jo Kabhi Saans Ruk Jaye To Maut Meri Hai

-Gulzar shayari on love


उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है,
उनके इंतजार में दिल तरसता है,
क्या कहें इस कम्बख्त दिल को..
अपना हो कर किसी और के लिए धड़कता है।

Gulzar Shayari On Love

Unke Deedar Ke Liye Dill Tadpt Hai
Unke Intezar Mai Dill Tarasta Hai
Kya Kahe Is Kambhakt Dill Ko
Apna Hokar Kisi Aur Ke Liye Dhadakta Hai


पलक से पानी गिरा है,
तो उसको गिरने दो
कोई पुरानी तमन्ना,
पिंघल रही होगी

Palak Se Pani Gira Hai,
To Usko Girne Do
Koi Purani Tamanna,
Pighal Rahi Hogi


हम तो समझे थे कि हम भूल गए हैं उनको, 
क्या हुआ आज ये किस बात पे रोना आया?

Hum To Samjhe The Ki Hum Bhul Gye Hai Unko,
Kya Hua Aaj Ye Kis Baat Pe Rona Aaya ?



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 3
  •  
  •  
  •  
  •  
    3
    Shares
  •  
    3
    Shares
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 3
  •  
Don`t copy text!