ShayariInfinity

Navjot Sidhu Shayari

Navjot Sidhu Shayari

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares

Navjot Sidhu Shayari

नाम ही खो दोगे तो किधर जाओगे,

और पहचान ही खो दोगे तो,

बिखर जाओगे..


कांटो में रहकर भी फूलो की तरह महकना सीखो

कीचड़ में रहकर भी दोस्तों कमल की तरह खिलना सीखो

जो परिस्थितियों से घबरा जाये वो लौह पुरुष हो नहीं सकता

राख में रहकर भी अंगारों की तरह दहकना सीखो


हम सभी आदमी के बच्चे हैं, 

यह बस हमारी त्वचा हैं जो हमें,

भिन्न बनाती हैं..

-Navjot Sidhu Shayari

प्रेम परिचय को पहचान बना देता है

वीराने को गुलिस्तान बना देता है

मै आप बीती कहता हु गैरो कि नही

प्रेम इंसान को भगवान बना देता है।


मेरे जीने के लिए तेरे अरमान ही काफी है,

दिल के कलम से लिखे ये दास्ताँ ये हीकाफ़ी है,

तीर-ऐ-तलवार की तुम्हे क्या जरुरत,

क़त्ल करने के लिए तेरी मुस्कान ही काफी है..!

-Navjot Sidhu Shayari

लीडर कमजोरी को ताकत मे तब्दील करता है, 

राह की बाधा को सफलता की सीढ़ी बनाता है,

 और हार को जीत मे तब्दील करता है. 

यही नेत्रित्व है इससे बड़ी कोई लीडरशिप नहीं।


जो वक़्त अपना बर्बाद नहीं करता

किसी की दुनिया आबाद नहीं करता

जिस किसी ने जगह मिलेगी जीत से

हारने वालो को जमाना याद नहीं करता


जोड़ने वाले को मान मिलता है…

तोड़ने वाले को अपमान मिलता है,

और जो खुशियाँ बाँट सके उसे सम्मान मिलता है। 


बीज बो दो फूल खिलकर चमन को,बहार देंगे.

और दिशा दे दो ये नौजवान मिलकर,

राष्ट्र को सवार देंगे..

Navjot Sidhu Shayari

जोशीली शायरी

खुदी से खुद का अंदाज़ा नहीं होता,

बाहर आने से पहले फूल भी ताज़ा नहीं होता,

कोशिशे करते रहो तो जान जाओगे,

मुकद्दर का हमेशा बंद दरवाजा नहीं होता

Read More: Chanakya Niti Hindi


जब जोश ही नहीं तो,

फिर किस काम की है जवानी..


मोटिवेशनल शायरी मंजिल पर

मंजिलें उन्ही को मिलती हैं

जिनके सपनों में जान होती है।

सिर्फ पंखों से कुछ नहीं होता,

दोस्तों हौसलों से उड़ान होती है।


बिना  जोखिम  कुछ  नहीं  मिलता,

और  जोखिम  वही  उठाते  हैं  जो,

साहसी  होते  हैं..


लाखों हसीं जहां में है पर मुझे यकीन है,

कि यहां तुमसे मिलता जुलता कोई दूसरा नहीं है,

ये नूर, ये निखार, ये शोखियां, ये बाघपन,

अगर कहीं जन्नत है तो यहीं है।


आयु थोड़ी बड़ी है, लेकिन उत्साह आज भी वही है

नदी चाहे गहरी है लेकिन प्रवाह आज भी वही है

वही दमखम वही चम चम, मन ठाठ वही है

तलवार पुरानी है पर धार और काट आज भी वही है


अच्छा भाग्य खुद आपका दरवाज़ा खटखटाता है.

बस आपको अवसरों को तलाशते रहना चाहिए..


सूरज हूँ जिंदगी की चमक छोड़ जाऊँगा,

फिर लौट आने की खनक छोड़ जाऊँगा

मै सबकी आँखों से आंसू समेट कर,

सबके दिलो में अपनी झलक छोड़ जाऊँगा


Best Navjot Sidhu Quotes In Hindi

समस्याएं बच्चों की तरह होती हैं, 

जितना समाधान करोगो, उतनी ही बढ़ेगी.

जिस तरह बच्चा बड़ा होकर आपकी मदद करता है, 

उसी तरह समस्याएं भी आपको निखारेंगी, अनुभव देंगी..


बुलबुलों के पंखों में बंधे हुए कभी बाज नहीं रहते

बुजदिलों और कायरों के हाथों में कभी राज नहीं रहते


जीने के लिये तेरा एक अरमान ही काफी,

दिल की कलम से लिखी ये दास्तान ही काफी है,

तीरों-तलवार की तुझे क्या जरुरत है हसीना,

क़त्ल करने के लिये तेरी मुस्कान ही काफी है।


जो बाज़ी ही नहीं खेलता, 

वह जीतता भी नहीं है.

इसलिए जीवन में रिस्क लेने से कभी मत घबराइए.

रिस्क लेने वाले ही जीतते हैं…


दिल से दुआ है, जो दिल से दे दुआ तो बिखारी आमिर है

मोती ना दे सके तो समंदर फकीर है

देता रहेगा सारे अंधेरो को रोशनी

जब तक तेरे वजूद में रोशन जमीर है


दुनिया मे सबसे बड़ा रोग,

मेरे बारे मे क्या कहेंगे लोग?

Navjot Sidhu Shayari

 इबादत नहीं सिर्फ माला को घुमा देना…

इबादत है किसी भूखे को रोटी खिला देना,

किसी रोते हुए को हसा देना,

किसी उजड़े हुए को बसा देना. …


आगे बढ़ने वाली शायरी

जो पर्वतों से टकरा जाये उसे तूफान कहते हैं, 

और जो तूफान से टकरा जाए उसे,युवान (युवा) कहते हैं..


अगर समंदर शांत हो तो,

नौसीखिए भी नाव चला सकते हैं.

असल प्रतिभा तो तब दिखती है,

जब आप हज़ार मुश्किलों के बावजूद जीतते हैं..


निकाल दे अपने दिल से हर डर को,
नजारे मिलेंगे नए फिर तेरी नजर को,
दामन भर जाएगा सितारों से तेरा
ये दुनिया देखेगी तब तेरे उभरते हुनर को


जिसकी जुल्फ को देख के बंदा मदमस्त बादल हो जाए

रूप ऐसा कातिल के आशिक भी पागल हो जाए

ज़रुरत क्या है महोतरमा आपको कुश्ती अखाड़े की

आप मुस्कुरा दो बड़े से बड़ा पहलवान घायल हो जाएं


जब आपकी कोई आलोचना करे

तो ये हमेशा याद रखना, 

आम के पेड़ को पत्थर मारते है लोग 

नीम के पेड़ को कोई पत्थर नहीं मारता..


कहते हैं जहां सिर झुक जाये वहीं मंदिर,

जहां हर नदी सम जाये वहीं समंदर है,

जीवन की इस कर्मभूमि में युद्ध बहुत है,

जो हर जंग जीत जाये वही सलमान जैसा सिकंदर है।


आज इस मौसम को देखो, सूरज गुलाबी और आसमान नीला है
दीवानों के दिलों का पुरजा पुरजा हुआ ढीला है

मौसम भी मदहोश है, इस हुस्न के जलवे को देख कर..

लगता है हर तारफ सनी लियोन की ही लीला है


पानी की बूंद कही टिकती नहीं,

ईमानदारी मुझे कही दिखती नहीं

खरीददारो की मंडी में खड़ा है सिधु,

जितनी मर्जी बोली लगा कुछ चीजे ऐसी है जो बिकती नहीं


सभी को सभी कुछ हासिल नहीं मिलता,

नदी की हर लहर को साहिल नहीं मिलता,

 ये दिल वालों की दुनिया है अजब है दास्तान इसकी,

 किसी से दिल नहीं मिलता ओर कोई दिल से नहीं मिलता।


जूनून है आंधियो में भी चिरागों को जला देता है,

वो जूनून है आग पानी में लगा देता है,

ये नयी सुबह का सूरज है,

इसे गौर से देख क्रिकेट वालो को ये अंदाज नया देता है


 गुलाबो की खुशबु दीवारे रोक नहीं सकती,

हवाओ का बहाव मीनारे रोक नहीं सकती,

बुलंद हौसले ही जीवन की हकीकत है,

फौलादो की तकदीर तब्दिरे रोक नहीं सकती


हादसों के शहर में हादसों से डरता है,

मिटटी का खिलौना है फना होने से डरता है

मेरे दिल के कौने में एक मासूम सा बच्चा,

बड़ो की देख के ये दुनिया ये बड़ा होने से डरता है


चम्पा के दस फुल चमेली की एक कली

मुर्ख की सारी रात चतुर की एक घड़ी


आप आये जैसे बहार आ गई,

सावन की रिमझिम जैसे फुन्हार आ गई,

मेरी बात पर अगर हंस दिए हुस्न-ए-आला

मानो हंसो की एक कतार आ गई।



Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
    2
    Shares
  •  
    2
    Shares
  •  
  •  
  •  
  •  
  • 2
  •  
Don`t copy text!